Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

सर्च करिए

Domain Authority क्या है,Domain Authority बढ़ाने के फायदे और तरीके(2021)

domain-authority-kya-hai
domain-authority-kya-hai


 Domain Authority क्या है?/Domain Authority कैसे बढ़ाएं?



दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे डोमेन अथॉरिटी क्या है(what is domain authority in hindi?), अगर आपको अपने साइट की डोमेन अथॉरिटी बढानी है, अगर आपको अपने आर्टिकल्स पहले पेज पर रैंक करवाने है,तो आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा।




जितने भी bloggers होते हैं उन्हें SEO के बारे में और उससे जुड़े terms के बारे में भी पता होता है जैसे की backlinks, Google page rank इत्यादि जिसका इस्तेमाल कर वो अपनी website को search engines पर अच्छी rank पर ला सकते हैं जिससे उनके site पर traffic होगा और वो इसके जरिये अच्छा income कर सकेंगें।




Expert ब्लॉगर्स को seo और seo से जुड़े बड़े टर्म्स लाइक backlink, google page rank, इत्यादी का नॉलेज होता है, उसके मदत से वो गूगल सर्च इंजन पर पहली रैंक पर आ जाते है, और बड़े ट्रैफिक के वजह से अच्छा income कमाते है।




तो दोस्तो अगर आपको seo से जुड़े टर्म्स के बारे में जानना हो तो आपको सबसे पहले domain authority जिसके बारे में बहोत कम blogger जानते होंगे,जिसके वजह से आपकी साइट गूगल सर्च इंजिन पर पहले स्थान पर रैंक होगी।




चलिए सीखते है, आखिर Domain Authority क्या है?

अपने ब्लॉग का da कैसे बढ़ाएं? इत्यादी सवालो के जवाब आज हम इस आर्टिकल में जानने वाले है।




Da याने डोमेन अथॉरिटी असल मे यह एल कंपनी है moz जो एक metric है, जो हर वेबसाइट को एक रैंक देती है 1-100 तक, लेकिन गूगल ने आज तक यह नही बोला कि वो साइट्स को उनके डोमेन अथॉरिटी के जरिये रैंक नही करते है, लेकिन आपकी डोमेन अथॉरिटी ज्यादा हो तो आपके गूगल सर्च में रैंक होने के सच मे ज्यादा चांस होते है।




Domain Authority kya hai


अलग अलग website का DA भी अलग होता है. जिसने अपना blog नया नया शुरू किया है उस blog का DA कुछ तिन महीने बाद 10-20 के अन्दर रहता है. आपका domain जितना पुराना होता जायेगा उसका DA बढ़ते जायेगा।




डोमेन अथॉरिटी एक मेट्रिक है जिसे moz नामके कम्पनी ने बनाया है जिसकी मदत moz हर domain या वेबसाइट को 1-10 मैसे कोई एक da दे देती है, जिसे यह पता चलता है कि आपके डोमेन की ऑथोरिटी कितनी है,

कहते है जितना पुराना डोमेन उतनी ज्यादा उसकी domain authority होती है।जितना ज्यादा DA होगा उतना ही ज्यादा organic traffic में मुनाफा मिलेगा.




Domain Authority को Check कैसे करें?



इंटरनेट पर बहोत सारे tools या वेबसाइट्स है जिनकी मदत से आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग का da यानी डोमेन अथॉरिटी चेक कर सकते हो, जैसे moz open site explorer बहुत ही बढ़िया tool है।



असल मे यह कोई नही बात सकता के गूगल किसी वेबसाइट को की बेस पर रैंक करता है, लेकिन da एक अच्छा पैरामीटर है जिसके जरिये आप अपने वेबसाइट को जज कर सकते हो, moz कंपनी रैंकिंग देने के लिए 40 अलग अलग factors का इस्तेमाल करती है, जैसे डोमेन कितना पुराना है, backlinks कितने लिए है, high authority website से कितने backlinks लिए है, और भी ऐसे फैक्टर्स की मदत से moz आपकी वेबसाइट को रैंक देती है, जिससे आपको अपने वेबसाइट की पोजीशन चेक करने के लिये मदत मिलती है।




Da कभी स्थिर नही होता है, वो बढ़ता या घटता है, अगर आपके वेबसाइट का da घट रहा है तो यह अच्छे चीज नही है।




Blog के Domain Authority को कैसे improve करें?


अगर आपको अपने वेबसाइट की डोमेन ऑथोरिटी बढानी हो तो आपको सबसे ज्यादा लिंक बिल्डिंग पर ध्यान देना होगा,अगर आपको अपने साइट का da बढ़ाना हो तो आपको नीचे दिए पॉइंट्स को फॉलो करना होगा, जिससे आप अपने blog का da improve कर सकते है।



1) Link building कर da बढ़ाये।


आप लिंक बिल्डिंग कर अपने साइट का da बढ़ा सकते हो,आपको लिंक बिल्डिंग करने के लिए ज्यादा से ज्यादा backlinks लेनी होगी आपसे  ज्यादा domain authority होने वाली वेबसाइट से,अगर आप क्वालिटी वेबसाइट से बैकलिंक लेते हो तो आपको उस साइट का juice पास होता है आपकी वेबसाइट में, जिकी मदत से आपकी साइट गूगल के नजर में आ जाती है, खराब वेबसाइट से backlink लेने पर आपके साइट का डोमेन ऑथोरिटी और भी कम होने की ज्यादा चान्सेस होती है,




2) अपने वेबसाइट से backlink interlink करे:-


आप अपने किसी famouse आर्टिकल्स से अपने नए आर्टिकल्स को interlink करना है, जिसकी मदत से आपकी नई आर्टिकल्स भी झट से गूगल सर्च इंजन में index होने की ज्यादा चान्सेस होती है।

आपको यह ध्यान में रखना है के आपको दो से ज्यादा लिंक्स किसी आर्टिकल में नही डालना है,अगर आप 2 से ज्यादा आर्टिकल्स interlink करते है तो इससे गूगल की नजर में bad इम्प्रैशन पड़ता है।

इंटरलिंक करने से पुराने आर्टिकल या जिससे आपको ट्रैफिक मिल रही है उस आर्टिकल का जूस आपके नए आर्टीकल में पास होता है, जिससे आपके नए अर्टिकल भी रैंक होने लगती है।




3) Comment कर के backlink लेकर डोमेन ऑथोरिटी बढ़ाये :-


आप अपने वेबसाइट की डोमेन ऑथोरिटी बढ़ा सकते है high authority वेबसाइट से comment backlink लेकर, आपको सिर्फ आपके नीचे से रिलेटेड ब्लॉग्स  को ढूंढना है और उन ब्लॉग्स की आर्टिकल्स को पढ़कर उन आर्टिकल्स पर अपने विचार और comments देने है, अब वो कमेंट approved होती है, उसके बाद आपके वेबसाइट की अथॉरिटी थोड़ी बढ़ जाती है।



4) Website की स्पीड बढ़कर authority बढ़ाए :-


आप अपने साइट की डोमेन अथॉरिटी बढ़ा सकते हो अगर आपकी वेबसाइट यूजर फ्रेंडली हो आपकी साइट किसी भी प्लेटफार्म पर खुले जैसे लैपटॉप या मोबाइल दोनों में झट से ओपन होनी चाहिए।


अगर आपकी साइट खुलने में देर लगती है तो आपको अपने साइट की फिजूल की चीजों को delete कर देना चाहिए,अगर आपके साइट का स्पीड बढ़ता नही तो वो गूगल की नजर में गलत इम्प्रेशन होता है।



5) Social media marketing कर बढ़ाये डोमेन :-


Social media हमारे site के content को rank करने के लिए बहुत ही फायेदेमंद होता है. Social media से हमें referral traffic मिलता है और site की brand value को भी बढ़ाता है।



दोस्तो आप अपने साइट के डोमेन ऑथोरिटी को सोशल मीडिया नेटवर्किंग साइट्स के मदत से भी बढ़ सकते हो, आपको सिर्फ अपने सोशल। मीडिया साइट्स के ऑडियंस को अपने साइट पर लाना होगा, जिसे आपकी डोमेन अथॉरिटी भी बढ़ेगी और आप अपने ब्लॉग की रैंकिंग भी बढ़ा सकते हो गूगल सर्च इंजन में।





Conclusion:-



दोस्तो हम आशा करते है के आपको समझ आ गया होगा के आप अपने साइट की domain authority kaise badha skte हो, और आपको यह भी पता हो चुका होगा कि आखिर domain authority क्या है? इत्यादि।


दोस्तो हम आशा करते है आपको हमारा यह प्रयास जरूर पसंद आया होगा, दोस्तो आहार आपको हमारा यह प्रयास पसंद आया हो तो जरूर इस आर्टिकल को अपने दोस्तों संग परिवार संग शेयर करना न भूले, इससे हमें प्रेरना मिलती है आपके लिए नए आर्टिकल लिखने में।

अगर आपने अब तक अपने DA पर अभी तक ध्यान नहीं दिया है तो अब ध्यान देना शुरू कर दीजिये. ऊपर बताये गए points को follow करीए और फिर देखिये आपको इससे कितना फायेदा होता है.